REQUEST

WE KINDLY REQUEST TO OUR DAILY AUDIENCE TO HELP US BY CLICKING ON THE ADVERTISIMENT SHOWN BELOW.

SEARCH HERE TO HELP US

Custom Search

Search This Blog

Loading...

Monday, February 1, 2016

(बेवफाई सायरी )मुझे तेरी ख़ामोशी ने मार दिया

किसी लुटेरे  ने  नहीं मुझे  तो तेरी सादगी ने  लुटलिया
किसी वक़्त  ने नहीं मुझे  तो  तेरे  इंतज़ार  ने मार्डिया
किसी खंजर  ने  नहीं मुझे तो तेरे  अल्फाज़ो  ने  ज़ख्मीकिया ,
अरे  अब तो  गुस्सा  छोड़  दे मुझे तेरी ख़ामोशी ने मार दिया 

(बेवफाई सायरी ) फिर धोका खाने को तयार है दिल

तेरी याद में  बेक़रार  है दिल
फिर धोका खाने को तयार  है  दिल

अब यहाँ किसी का गुज़र  नहीं  होता
इन दिनों  एक उजड़ा हुआ फूल  है दिल

रोता  है तो आँखों से खून गिरता  है
किसी की मोहब्बत में  गिरफ्तार है दिल

कुछ देर तेरी  याद से ग़ाफ़िल हो गया था
अब तो हर पल रहता बेहदार  है दिल

तेरी जुदाई में रो -रो  के ये तेरी याद  में बेक़रार है दिल तेरी याद  में बेक़रार  है दिल 

(बेवफाई सायरी ) दिल की नाज़ुक धड़कनो को मेरे सनम तुमने धड़कना सीखा दिया

दिल  की  नाज़ुक  धड़कनो  को ..
मेरे  सनम तुमने  धड़कना  सीखा  दिया ,
जब  से  मिला  है  तेरा  प्यार  दिल  को ,
गम  में  भी  मुस्कुराना  सीखा  दिया

(बेवफाई सायरी ) अपनों को कभी रोने मत देना

तनहा  खुद  को  कभी  मत  होने  देना ,
अपनों  को  कभी  रोने  मत  देना ,
आप  बहुत  ख़ास  हैं  हमारे  लिए ..
इस  ख़याल  को  अपने  से  कभी  जुड़ा  होने  मत  देना !

आँखों में रहने वाले को याद नहीं करते

आँखों  में  रहने  वाले  को  याद  नहीं  करते ,
दिल  में  रहने  वाले  की बात  नहीं  करते ,
हमारी  तो  रूह  में  बस  गए  हो  आप ,
तभी तो  मिलने  की  फरियाद  नहीं करते